भारतीय  समाज में बहुत सारी ऐसी मान्यताये है जिनके आधार पर हर प्राणी धनी बनना चाहता है! और सुख समर्धि प्राप्त करना चाहता है! मानव समाज में ज्योतिष शाश्त्र का बहुत बड़ा महत्व होता है ज्योतिष शाश्त्र के आधार पर ही लोग अपने जीवन में सुख समर्धि प्राप्त कर सकते है!ज्योतिष शाश्त्र की ही कई शाखाओ में एक हस्त रेखा का भी प्रचलन होता है!जिसके आधार पर पर हम अपनी हाथ की रेखाओ के आधार पर अपने भविष्य की आने वाली योजनाओ को तय करते है!और भविष्य के संकेतो को जन सकते है!

हर व्यक्ति की हाथ की हथेली में विभिन्न प्रकार की रेख्ये होती है जिनमे से बहुत सी रेख्ये ऐसी होती है जो मनुष्य के लिए लाभदायक होती है और कुछ रेख्ये ऐसी होती है जो मनुष्य के लिए हानिकारक होती है! जिनमे से भाग्य रेखा,ह्रदय रेखा जीवन रेखा,विवाह रेखा आदि प्रमुख रूप से होती है!और इनके अलावा हाथ पर कुछ शुभ अशुभ चिन्ह भी होते है!जो कुछ शुभ फल प्रदान करते है!

हथेली पर जहाँ कई निशान और चक्र सुभ संकेत देते है वहीं कुछ निशान बेहद अशुभ फल देते है!आज हम आपको हथेली में ऐसे अशुभ निशान क्रॉस के बारे में आपको बताने जा रहे है!जो आपको अशुभ फल प्रदान करती है!अक्सर हम देखते है की जब दो रेखाए एक दुसरे को काटती है जैसा की निचे चित्र में दिखया गया है की यह क्रॉस का निशान मुसीबत निराशा खतरा और कभी मनुष्य पर आने वाले खतरे का निशान का बनता है!क्रॉस के लक्षण हथेली पर अनेको प्रकार के पर्वतों और रेखाओ पर निर्भर करते है!

यह निशान मनुष्य के की दुर्घटना का सूचक होता है!लेकिन जब यही पर्वत केंद्र पर स्थिति होता है तो कहा जाता है की वह मनुष्य यश सम्मान और प्रतिष्ठा प्राप्त करेगा!लेकिन इसी पर्वत पर अशुभ चिन्ह का होना आपके लिए संकट को दर्शाता है! इस प्रकार के व्यक्ति को अपने हर काम में निराशा ही हाँथ लगती है!

और यदि व्यक्ति के चन्द्र पर्वत पर क्रॉस पद हो तो वह व्यक्ति कल्पना से परे होता है!

तो दोस्तों आपको इस जानकारी के आधार पर हमारी पोस्ट पसंद आई हो तो लाइक व् शेयर करे!

        तो कैसी लगी आपको मेरी पोस्ट ,ऐसे ही पोस्ट लगातार पाने के लिए लाइक करे हमारा फेसबुक पेज नमो

 

Loading...
Loading...

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here